बुखार में दौरे आते है बच्चों को ?घबराएं नही। - HealthUpachar

बुखार में दौरे आते है बच्चों को ?घबराएं नही।

6 माह या 6 साल के कम उम्र के बच्चों में बुखार में दौरे आते है।यह सिर्फ बुख़ार में ही आते है ।और इनका बुरा असर नही होता है बच्चो में ।यह सिर्फ दिखने में गम्भीर रूप के होते है ,पर बुखार में दौरे लगातार आने पर तुरन्त डॉक्टर से मिले ।

 बुखारी दौरे के लक्षण  :

  • अक्सर कुछ छोटे बच्चों में बुखार में दौरे आ जाते है ।इसके लक्षण है कि उनकी गर्दन ऊपर की तरह मुड़ती है आँखे खुली हुई, हाथ ,पैर और चेहरे अकडन और तीव्र झटके  आने लगते है ।यह साधारण कुछ सेकन्द या 1से2 मिनटों के लिए होते है बाद में नार्मल हो जाते है ।
  •  बुखारी दौरे कुछ बच्चो में ये 1 ही बार आते है ।कइयो में यह हर बार बुखार रहते आ सकते है बाद में यह समाप्त होते है । यह मिर्गी  के दौरों जैसे नही होते तथा यह हमेशा नही रहते।

बुखार में दौरे

बुखार के दौरे का कारण :

  • मुख्य कारण बुखार ही होता है । बाहरी टेम्परेचर और शरीर के तापमान के होने वाले बदलाव के कारण भी यह हो शकते है ।
  • अक्सर  बुखार में बच्चो को ठंड़े पदार्थों या ठंडे पानी के ग्रहण करने से होता है ।क्योंकि शरीर का तापमान और आहर का तापमान मेल नही खाता इस वजह से भी बुख़ार के समय बच्चों को दौरे हो सकते है।

 

यह पढ़े …..बुखार का रामबाण उपाय। fever

बुखार में दौरे पर सावधानियां । :

  • बुखार में बच्चो को गुनगुना आहार दे  ।ज्यादा ठंडी चीजे न खिलाए और न पिलाए।
  • बच्चो को दौरे आने पर उसके कपड़े ढ़ीले करे।उनकी अगलबगल कुछ भी नुकीली या सख्त चीजे न रखे ।
  • उनको ढीले पकड़े और उनकी शरीर की होने वाली गतिविधियों को न रोके । उनको उस अवस्था मे पानी या अन्य चीजें न खिलाये या पिलाये।
  • बुखार कम करने के लिए इलाज कराए तथा पानी की पट्टीया रखे।

 

यह पढें….सर्दी खाँसी पर इलाज for kids। cough cold in chlid

 

धन्यवाद दोस्तों ,हमारा article पढ़ने के लिए और यह आपको फायदेमंद लगा हो तो इसे जरूर शेयर करे ।आपका share हमारे लिए बहोत कीमती है ।इससे related अधिक जानकारी के लिए हमे [email protected] com पर सम्पर्क करें।

Image source : free stock photo

 

Share

error: Content is protected !!