संतुलित आहार क्या है ? Balenced Food . - HealthUpachar

संतुलित आहार क्या है ? Balenced Food .

संतुलित आहार शब्द ही सात्विक और अर्थपूर्ण लगता है। पर संतुलित आहार क्या होता है तथा किस लिए यह जरुरी है व्यक्ति के शरीर के लिए आज हम देखेंगे ।

संतुलित आहार लेना स्वस्थ जीवन का प्रतीक है । यह हर व्यक्ति के उम्र ,लिंग,वजन,ऊँचाई, उसकी सध्य अवस्था तथा वह जो कार्य करता है उसके ऊपर depend करता है कि उसका सन्तुलित आहार क्या होना चाहिए ।

जैसे कि : बालक ज्यादा active होता है  वह हर दम खेलते रहता है  और एक  आदमी है जो दफ्तर में काम करता है और इसके विपरीत दूसरा आदमी है जो कि कसरत का काम करता है । इन तीनो में से बालक और कसरत करने वाले आदमी को ज्यादा प्रोटीन्स ,विटामिन्स, कॉर्बोहयड्रेट्स, तथा पानी की आवश्यकता है । दफ्तर में काम करने वाले आदमी को इनकी जरूरत है पर कम मात्रा में क्योंकि वह बैठा काम करता है  ।

संन्तुलित आहार मीन्स  वह आहार जिससे शरीर विकास में वृद्धि हो जिससे खाने में रुचि आये तथा वह स्वास्थ  वर्धक हो  ।

संतुलित आहार

संतुलित आहार  :

कॉर्बोहयड्रेट्स, प्रोटीन्स ,विटामिन्स ,खनिज, पानी  इन सभी को मिला के संन्तुलित आहार होता है । किसी एक ही पदार्थ में यह सब नही पाए जाते । किसी यक पदार्थ को भर पेट खा लेने से पेट भरता है, ऊर्जा भी मिलती है पर हमेशा ऐसा आहार ही ग्रहण करने से शरीर मे रोग उत्पन्न होने लगते है ,शरीर को पूरा पोषण नही मिल पाता ।इस कारण संन्तुलित आहार लेने की सलाह दी जाती है।

आइये तो देखे संन्तुलित आहार  क्या है  ।

शक्तिवर्धक तथा ऊर्जा प्रदान करने वाले आहार:

कॉर्बोहयड्रेट्स  :

कार्बन , नायट्रोजन, ऑक्सीजन इन तीनो का मिश्रण मीन्स कॉर्बोहयड्रेट्स  । इसके सेवन से तुरंत ऊर्जा मिलती है तथा यह शक्ति वर्धक  आहार होते है । अन्य पदार्थो से इनका आहार में प्रमाण ज्यादा होता है । अनाज, बाजरा ,गेंहू,ज्वार, चावल,आलू ,शकरकंद ,रागी आदि में यह प्रचुर मात्रा में पाया जाता है ।

विटामिन

प्रोटीन्स :

प्रोटीन्स यह अतिआवश्यक तत्व है जो कि बाल्यकाल और युवाओं को अधिक जरूरी है । बढ़ती उम्र के साथ इसकी आवश्यकता कम होने लगती है पर किसीभी उम्र में इसका आहार्ड में होना अति आवश्यक है ।क्योंकि यह शरीर की मरम्मत का कार्य करता है हर रोज व्यक्ति के शरीर मे कई ऊतकों और पेशियों की टूट फुट जारी रहती है  ।

तथा कहि घाव लग जाये बहोत दिन से बीमार है ,तो उसको भरने के लिए या शरीर की जो झिज़ हुई होती है ।उसको भरने के लिए प्रोटीन्स अति आवश्यक है  तथा यह स्टोरेबल ऊर्जा के रूप में शरीर मे विद्यमान रहता है ।

जैसे अंडे, दूध , डेयरी उत्पाद, सभी दाले, अंकुरित अनाज, इन सभी मे यह प्रचुर मात्रा में पाया जाता है ।

विटामिन :

विटामिन्स A, B, C, D, E, यह सभी आवश्यक विटमिन है ,जीवन को स्वस्थ रखने के लिए। इनमे से किसी एक की कमी या अधिक मात्रा के सेवन से जीवन पर बुरा असर होता है ।  इसलिए इन्हें संन्तुलित रखना आवश्यक है ।

  • विटामिन A : गाजर, पालक,  हरे हरे रंग की सब्जियां, दूध आदि मे पाया जाता है ।
  • Vitamin B :  दूध के सभी उत्पादों में यह पाया जाता है।
  • C vitamin : सभी रसदार फल या खट्टे फल , टमाटर , नीम्बू, स्ट्रॉबेरी, संतरे आदि में ।
  •  D विटामिन : दूध , मछली और सबसे मुख्य स्रोत है सूरज की धुप ।
  •  E vitamin : सभी तेलीय पदार्थो मे यह विद्यमान है पर बादाम में यह प्रचुर मात्रा में पाया जाता है , इसी के साथ साथ मूंगफली, अखरोट , सुरज मुखी का तेल आदि में ।
खनिज :

शरीर मे सभी खनिजो का बहोत मूल्य है यह सभी आपने आप मे मूल्यवान है बिना खनिज खाने से शरीर स्वस्थ नही हो पाता है । इनमे फॉस्फोरस, मैग्नेशियम, आयरन, पोटैशियम आदि आते है  इन सभी के अलग अलग कार्य है  , इनमें से किसी एक के कमी से भी शरीर का स्वास्थ्य बिगड़ जाता है ।

  • फॉस्फोरस : सोयाबीन, दाल, ओट्स, अलसी, चिकन, सूरजमुखी बीज आदि में ।
  • आयरन : भुना चना, पालक, गुड़, रागी, मूंगफली, तिल, काजू, बादाम आदि ।
  • मैग्नेशियम : सेलेमन मछली, बीफ, चिकन, मूंगफली, ब्रॉउन rice, ब्रोकली, आदि ।

 

वसा वाले पदार्थ या स्निग्ध पदार्थ :

इनका भारतीय आहार में मुख्य स्थान है । इससे शरीर की त्वचा सतेज ओर कोमल रहती है एवं शरीर मे ऑयलिंग अच्छे से होती है ।

जैसे सभी तेल ।

 

पानी :

पानी सभी के लिए जीवन है , बिना पानी के किसी का भी अस्तित्व नहीं है , इसलिए दिन में ज्यादा मात्रा में पानी पिए यह शरीर का तापमान control में रखता है।

त्वचा में नमी बरकरार रखता है ।साथ ही साथ शरीर मे होने वाली चयापचय क्रिया में यह सबसे महत्वपूर्ण हैं और उसके बाद यह शरीर के अनावश्यक टॉक्सिन को मूत्र द्वारा बाहर निकालता है ।

ऊपर दिए गए  सभी तत्वों को मिलाकर संन्तुलित भोजन बनता है  तथा उसपर सही से प्रक्रिया कर के पकाना और उसके बाद उसको वक्त पे चबाकर खाना और सही मात्रा में पानी पीना यह सभी संन्तुलित आहार में आता है ।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Share

error: Content is protected !!