6 माह के बच्चो का आहार। 6 month child food .

6 माह के बच्चो का आहार :  माँ बाप को लगता है उनका बच्चा जल्द खाने लग जाए और सब पदार्थ खाए जिससे वह चुस्त और तन्दुरूस्त रहे।पर इसमे जल्दबाजी करना ठीक नही क्योंकी 6 माह से पहले बच्चो की पेट के आंते उपरी खाना पचाने मे सक्षम नही होती है ।इससे  बच्चो को बाहरी खाना पचाने मे कठिनाई हो सकती है या फिर बच्चो मे खाने के प्रती चाव नही रहता ।6 माह के बच्चो  को उपरी आहार और पाणी देना सुरू करना चाहिए। 6 माह के बच्चो को आप सुरवात मे फलो का रस तथा पतली प्युरी दे सकते है। समय से पहले जन्मे बच्चो को डाॅक्टरी सलाह के बाद ही बाहरी आहार देना प्रारंभ करे।

याद रहे आप जिस बर्तनो को use कर रहे हो वह र्निजंतुक हो । ताकी इनफेक्शन न हो।


6 माह के बच्चो

पहले 1 या 2 चमच्च से स्टार्ट करना है , बच्चा वह अच्छे से  accept करता है या नही यह देखने के बाद आप अगला आहार दे सकते है ।नही तो आप direct डाॅक्टर से सलाह भी ले सकते है ।

हमे पहले 1से 2 चमच्च फलो का रस या पतली प्युरी देनी है ।इसमे आप apple की प्युरी का या अनार दाने का रस दे सकते हो।  याद रखे आप जब भी  कुछ  पदार्थ बच्चे को पहली बार खिला रहे हो तो  उसका शरीर क्या reaction करता है इसकी पुरी जाँच करे ।जैसे :उलटी करता है , कब्ज होते है , loose motion, rash आना।ऐसा होने पर डाॅक्टर से सलाह ले ।

6 माह के बच्चो का आहार :

6 माह के बच्चो

फलो का रस या प्युरी :  सुरवाती दौर मे फलो का रस तथा प्युरी दे । सबसे पहले Apple जो की रवेदार होता है उससे start करे 1या2 चमच्च से  और दिन ब दिन इसकी माञा बढाती जानी है ,फलो को भी vary करना है जैसे की चिकु , संतरा , अनार, पेर , मौसमी आदी ।

6 माह के बच्चो

दाल का पाणी : आप उबले हुई दाल का पाणी भी दे सकते हो।दाल उबलते वक्त उसमे  चुटकी भर हल्दी और थोडा तेल या देसी घी डाले।इससे थोडा टेस्ट आएगा।

6 माह के बच्चो

चावल का पाणी या पेज : आप बच्चो को उबले चावल का पाणी तथा चावल की पेज भी दे सकते हो ।पेज बनाते समय उसमे भौनकर पिसा हुआ जीरा डाले ।इससे test आएगी ।

6 माह के बच्चो

चुकंदर , गाजर का रस तथा प्युरी  : आप गाजर का रस निकालकर उसे भी try कर सकते हो ।चुकंदर का रस भी दे सकते हो पर वह मीट्टी का smell छोडता है उससे बच्चो मे उल्टी आनेकी आशंका  रहती है तो आप चुकंदर को उबालकर उसकी प्युरी दे सकते हो ।

6 माह के बच्चो

काजु, बादाम ,पिस्ता : आपका बच्चा अगर उपरी दुध ले रह है ।तो आप काजु+ बादाम + पिस्ता + एक इलायची + थोडा जायफल + केसर मिलाकर मिक्सी से महिन करले । नही तो एक एक करके महिन कर ले और मिक्स करे । इस पावडर को आवश्यकता नुसार दुध मे मिलाकर उबाल ले और बच्चो को पिलाए । याद रहे इस पावडर का इस्तेमाल 1 महिने से जादा न करे बाद मे दुसरा बना ले । इस पावडर को आप सुजी का हलवा , ऐसे ही किसी अन्य पदार्थ मे भी दे सकते हो।

6माह के बच्चो

सुप :  छोटा तुकडा गाजर  + बीट + लौकी +potato + इस सब को उबालकर इसका सुप भी आप बच्चो को दे सकते हो । तथा सब्जीओ का सुप भी दे सकते है ।

6 माह के बच्चो

नागली की पेज : बच्चो को आप नागली सत्व की पेज बनाकर भी दे सकते है।

अब आपका बच्चा बाहरी आहार से वाकिब हो गया है । अब वह अच्छे से उसे पचा भी लेता है  तो  अब आप 7 , से 8 माह से उसे जरा ठोस आहार देना प्रारंभ करे।

धन्यवाद,  आपको हमारा articleअच्छा लगा तो और इससे जुडी कुछ जानकारी के लिए आप हमे [email protected] पर संपर्क करे।

 

error: Content is protected !!