Top 10 तरीके पेट के कीड़े को ख़त्म करने के।

बच्चे 1 साल के होते ही वह बाहर खेलते है ,कभी कभी यह बाहर की मटर गस्ती पेट के कीड़े पैदा कर सकती है । जब बच्चा बाहर खेलता है उसके पैरों में संक्रमित मिट्टी लगने से ,या नाखुनो में चिपकनेसे ,तथा हाथो के माद्यम से यह मिट्टी पेट मे जाने से पेट के कीड़े पैदा होते है और यह पेट के अंदर तेजी से फैलते है ।तथा यह पेट मे ही अंडे देना चालू करते है ।पेट में कीड़े है यह अनुमान लगाना मुश्किल है क्योंकि इनका कोई ठोस लक्षण नही होता ।

पेट के कीड़े यह एक संक्रमनसे होने वाली बीमारी है जिससे बहोत जल्द निजात पाया जा सकता है । कोई संक्रमित व्यक्ति जब मिट्टी में सौच करता है तब उसके मल द्वारा यह कीड़े मिट्टी में घुल जाते है और मिट्टी में अंडे देते है जिसको लार्वा बोलते है यह लार्वा जब बच्चे संक्रमित मिट्टी में या जगह पे खेलते है तब उनके तलुवों द्वारा शरीर के अंदर जाते है या नाखून में चिपककर मुह द्वारा शरीर मे प्रवेश करते है । इनमे में बहोत से प्रकार के कीड़े होते है।पर ज्यादा तर भारत मे पाए जाने वाले पिनवर्म या इन्हे थ्रेडवर्म भी बोलते है ।यह मोटे धागे इतने जाड़े और  3mm या 10 mm इतने लंबे होते है ।इनको देखकर फिक्र करने की जरूरत नही है क्योंकि इनसे जल्दी छुटकारा पाया जा सकता है । और जल्दी समझ न आने पर आप सीधे डॉक्टर से सम्पर्क कर सकते है ।और इनकी दवाइया ओरल मीन्स मुह से लेने वाली ही होती है। आप इसमें घरेलू उपाय भी कर सकते है जो हम यहां देखेंगे ।

पेट मे कीड़े है, इसके लक्षण :

वजन कम होना ।

भूख न लगना।

हमेशा /बहोत दिनों से पेट मे दर्द रहना ।

अखाद्य वस्तुओ का सेवन जैसे : चोक,मिट्टी ,कागज आदि।

बार बार bathroom जाना ,मूत्रमार्ग का संक्रमण यह ज्यादातर लड़कियों में पाया जाता है।

खून की कमी। यह कीड़े परजीवी होने से आपका बच्चा जो खाता है वो खाना यह कीड़े खा जाते है और शरीर मे से कुछ पोषक तत्व भी खाने से शरीर  मे खून की कमी होने लगती है।

 

यह पढ़े….जानिए कब्ज की समस्या से निजात कैसे पाए

 

जिस जगह से कीड़ो ने शरीर के अंदर प्रवेश किया है उस जगह पर लाल निशान या चकत्ते आना।

गालो पर चकत्ते आना

सौच में से खून आना।

उल्टी करते समय या खासते समय मुह से कीड़ो का बाहर आना।

संक्रमित रोगी के साथ रहने से।

मल द्वार पर खुजली आना खासकर नींद में ऐसा होने पर आप बच्चो के नितम्बो को अलग अलग करके मल द्वार पे torch लगाकर देखे आपको मल द्वार के आसपास कुछ कीड़े नजर आएंगे।

यह कीड़े कपड़ो में 3 से 4 हप्तों तक जीवित रह सकते है ।और संक्रमण से दूसरों को हो सकते है।

पेट मे कीड़े किस वजह से होते है :

संक्रमित व्यक्ति के सम्पर्क में आने से,  वह  व्यक्तिगत रूप से गन्दा रहता हो और गंदगी में रहना पसंद करता हो ऐसे रोगी के संम्पर्क में बच्चे आने से बच्चो को पेट के सम्बधित कीड़ो का सामना करना पड़ता है।

संक्रमित मिट्टी , किचड़ से: बच्चे जहा पर खेल रहे हो या गुजर रहे हो वहा की मिट्टी संक्रमित होनेसे भी यह कीड़े शरीर मे प्रवेश करते है ।मिट्टी में खेलने से बच्चों के नाखुनो की नीचे /बीच मे मिट्टी जमती है उनमें यह कीड़े पाए जाते है तथा इन्ही होतो से खाने पर या हाथ मुह में डालने पर कीडे पेट मे आसानी से जाते है।

संक्रमित /गन्दा पानी  पीने से :गंदी जगह का पानी या गन्दा पानी पीने से या इस्तेमाल करने से यह संक्रमण होताहै

संक्रमित आहार तथा अधपका : संक्रमित भोजन करने से तथा बाजार से लाए हुए फल अच्छे से धोकर न  खाने से और बाजार या खेत से लाई हुई सब्जिया बिना धोये खाने से या कच्चा पकाने से यानी अधपका पका ने से यह कीड़े मरतें नही इसलिए अच्छे से धोये और पूरी तरह पकाये यह कीड़े नही रहेंगे।

पेट के कीड़े होने पर उपाय:

अनार दाना : बच्चो को अनार का रस 6 से7 दिन पिलाये इससे पेट के कीड़े मल में से बाहर आजाएँगे।

पेट के कीड़े

कच्चा पपीता : बच्चो को पेट मे कीड़े होने पर कच्चा पपीता खिलाये और उसके बीज को बारीक करके गुनगुने पानी के साथ पिलाये ।

 

यह पढ़े  …पेट दर्द से छुटकारा पाने के कारगर घरेलू नुस्ख़े।

 

पेट के कीड़े

खड़ा हींग और गुड : थोड़ा सा गुड़ लेके उसमे खडा हींग की पावडर बनाकर मिलाकर खिलाने से 1 से 2 दीन में  कीड़े मल से बाहर आजाएँगे। यह रामबाण उपाय है।

पेट के कीड़े

लहसुन की कालिया: इसमे नमक या सेंधा नमक मिलाके इसकी पेस्ट बना ले और बच्चो को खाने में दे तथा रसोइमे इसका इस्तेमाल  ज्यादा करे ।

पेट के कीड़े

कद्दुके बीज : कद्दू के बीज खाने से या इसको भून लें और पाउडर बना ले और शहद में मिलाकर खाये । इससे कीड़ो पर जल्द असर होगा ।

पेट के कीड़े

करेले का ज्यूस :करेला या करेले के पत्ते का ज्यूस निकाले और 2 से 3 चम्मच गुनगुने पानी मे डालकर  या उसके साथ पिलाये ।

पेट के कीड़े

टमाटर : टमाटर रस निकाले उसमे  नमक डालकर पिये या टमाटर के slise बनाकर उनपर सेंधा नमक और कालीमिर्च डालकर खाने से कीड़े ख़त्म होंगे।

पेट के कीड़े

अजवायन : अजवाइन को बारीक चूर्ण करले उसमे गुड़ मिलाकर खाने से कीड़े कम होंगे ।

पेट के कीड़े

गाजर : सुबह खाली पेट गाजर खाने को दे।

पेट के कीड़े

छाछ या दही : छाछ में नमक और कालीमिर्च डालकर पिलाये या दही खिलाये  यह प्रोबियोटिक होता है ।

 

कीड़ो से दूर रहने के लिए क्या करे :

बच्चो को गंदी जगह की मिट्टी और कीचड़ या पानीवाले कीचड़ की जगह पर न खेलने दे।

बाहर से खेलकर आने के बाद उनके कपड़े बदल दे और उनके  हाथ पांव अच्छे से धो ले ।

Toilet और bathroom use करने के बाद हैंडवाश की आदत डालें । तथा खाने के पहले इसका इस्तेमाल करे। आप भी इस का प्रयोग करे।

बच्चो के नाखून बढ़ने न दे ।

बड़े बच्चो को टॉयलेट के बाद गुप्तांगो को अच्छे से धोने को सिखाए ।छोटे बच्चों में इसका आप ध्यान रखे।

बाहर से फल या  सब्जिया लाने पर उनका अच्छे से ढोकर इस्तेमाल करे । मास मच्छी को अच्छे से पकाकर खाये ।

बच्चो के कपड़े  और तौयलिये अच्छे से साफ रखें हो सके तो dettol के पानी से धोएं।

गंदी जगह का आहार और पानी लेने से बचे। सार्वजनिक उपयोग के लिए भी साफ पानी का ही उपयोग करे।

धन्यवाद, आप को यह post फायदेमंद लगा हो तो इसको share जरूर करे आपका share हमारे लिए कीमती है और इससे रिलेटेड अधिक जानकारी के लिए हमें [email protected] पे सम्पर्क करें

 

 

 

 

 

 

" data-link="https://twitter.com/intent/tweet?text=Top+10+%E0%A4%A4%E0%A4%B0%E0%A5%80%E0%A4%95%E0%A5%87+%E0%A4%AA%E0%A5%87%E0%A4%9F+%E0%A4%95%E0%A5%87+%E0%A4%95%E0%A5%80%E0%A5%9C%E0%A5%87+%E0%A4%95%E0%A5%8B+%E0%A5%99%E0%A4%A4%E0%A5%8D%E0%A4%AE+%E0%A4%95%E0%A4%B0%E0%A4%A8%E0%A5%87+%E0%A4%95%E0%A5%87%E0%A5%A4&url=https%3A%2F%2Fhealthupachar.com%2Ftop-10-%E0%A4%A4%E0%A4%B0%E0%A5%80%E0%A4%95%E0%A5%87-%E0%A4%AA%E0%A5%87%E0%A4%9F-%E0%A4%95%E0%A5%87-%E0%A4%95%E0%A5%80%E0%A5%9C%E0%A5%87-%E0%A4%95%E0%A5%8B-%E0%A5%99%E0%A4%A4%E0%A5%8D%E0%A4%AE%2F&via=">">Tweet
0 Shares
error: Content is protected !!